चूहेदानी 13 फरवरी, 2021 – वरिष्ठतम द्वारा

एनेट म्यूलर लिखती हैं, महामारी और लॉकडाउन एक एहसास दिलाता है कि जीवन एक जाल के अलावा और कुछ नहीं है – लेकिन यह देखने का सिर्फ एक नज़रिया है। …

Read More

साल का सेपिया रंग का मोड़

एक बच्चे का नए साल के अनुभव में एक तरह का जादू है। वंदना कनोरिया द्वारा   मेरा अधिकांश बचपन चॉकलेट्स के बढीया स्वाद , सर्दियों में हरी घास पर ओस …

Read More

लॉकडाउन उपहार और सीख 13 नवंबर, 2020 – वंदना कनोरिया द्वारा

यदि महामारी ने हमसे बहुत कुछ छीन लिया है, तो इसने हमें जीवन जीने के सबक भी दिए हैं। वंदना कनोरिया द्वारा जब सुनामी के माध्यम से तैरने की बात …

Read More

मेरी बेटी कल्पना लाजमी

ललिता लाजमी की कल्पना लाजमी, प्रसिद्ध फ़िल्मकार और एक अनोखा व्यक्तित्व, के बारे में सुष्मिता भट्टराय से बातचीत “कला साँस लेने समान है; मैं उसके बिना जी नहीं सकती” कलकत्ता …

Read More

एअर इंडिया से यात्रा कर रहे हैं?

अपना खाने का डिब्बा साथ ले जाएँ, विक्रम सेठी कहते हैं कई साल पहले मैं एअर इंडिया से दिल्ली से मुंबई जा रहा था. शाम की फ्लाइट थी. मुझे पिताजी …

Read More

एक पारसी बावा बता रहा है कि अपने 43 वर्ष के विवाहित जीवन में वह कैसे टिक पाया

आज सुखी संयोग के पाँचवे दशक के मध्य में, केरसी गाँधी अपना रहस्य खोल रहे हैं अट्ठारह बरस की कोमल आयु में एक मृदु, संयत, और उम्र में मुझसे कुछ …

Read More

लॉकडाउन के काल में महत्व का आविर्भाव

नागेश अलई लिखते हैं कि महामारी का सामना करने में प्रत्येक आयुवर्ग तथा सामाजिक और आर्थिक स्तर के अधिकांश व्यक्तियों ने सकारात्मक प्रवृत्ति दिखाई है इस वर्ष की व्यापक महामारी …

Read More

जब 59 वर्ष की उम्र में आपके पति या पत्नी आपको छोड़ जाते हैं तो क्या होता है?

एनेट म्यूलर लिखती हैं कि शादी का टूट जाना आपके धैर्य की कड़ी परीक्षा लेता है, और साथ ही आपको अपनी शक्तियों से परिचित कराता है गुज़रते हैं जब आसपास …

Read More

अपनी ज़ुबानी: महायुद्ध में सहभागी भारतीय सैनिकों पर अंजलि सोवनी

चित्रकार अंजलि सोवनी द्वारा प्रथम विश्व युद्ध के अज्ञात भारतीय शूरवीरों का सम्मान और उनकी शौर्य कथाओं का वर्णन “भगवान के लिए, यहाँ मत आना, मत आना, मत आना…..” यह …

Read More