अपने वजन और कमर पर ध्यान दें

  मोटापे को शरीर में अत्यधिक वसा के संचय से जुड़ी बीमारी के रूप में परिभाषित किया जाता है। मोटापे से ग्रस्त एक व्यक्ति वह है, जिसका बीएमआई 30 से अधिक है। हालांकि अधिकांश लोग इसके बारे में चिंता करते हैं कि वे कैसे दिखाई देते हैं, लेकिन मोटापा किसी के स्वास्थ्य पर बहुत अधिक प्रभाव डाल सकता है- उच्च रक्तचाप, मधुमेह के दूसरे टाइप कि बिमारी, हृदय संबंधी दिक्कतें- यह कुछ नाम है ।

     हालांकि मोटापा अब अधिक व्याप्त है (आंकड़े बताते हैं कि यह पिछले चार दशकों में तीन गुना से अधिक हो गया है), चाहे लोग स्वास्थ्य के प्रति अधिक सचेत हो गए हैं … अपनी जीवन शैली और भोजन की आदतों को बदलने से लेकर, व्यायाम करने तक, ज्यादातर लोग स्वस्थ और मोटापे से सुरक्षित रहना चाहते हैं।

  कुछ प्रश्न जो आमतौर पर लोगों के पास होते हैं:

 मोटे होने के बावजूद, कोई सह-रुग्ण रोग नहीं है … क्या यह सुरक्षित है?

  –      नहीं! मोटे होने से आपको मधुमेह और उच्च  रक्तचाप जैसी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। अपने डॉक्टर के साथ नियमित रूप से परामर्श करना चाहिए, खासकर इसलिए क्योंकि इन स्थितियों में से कुछ निष्क्रिय हैं।

  क्या तोंद होना खतरनाक है?

–      हाँ! तोंद आपके पेट के आसपास वसा के अधिक संचय के कारण है। यह वसा 2 प्रकार की होती है: उपचर्म (आपकी त्वचा के नीचे) और आंत (आपके आंतरिक अंगों के आसपास)। यह आपके नितंबों और जांघों के वसा के विपरीत यह मधुमेह जैसी बिमारियों का कारक है। यदि आपके पास तोंद है, तो नियमित स्वास्थ्य जांच उचित है।

      अपने शरीर के वजन का लगभग 5% कम करने का प्रयास करें और देखें कि क्या आपका पेट कम होता है। आम तौर पर, पेट की चर्बी का हिस्सा अन्य क्षेत्रों की तुलना में अधिक होता है।

  क्या वजन कम होने पर आप पिलपिले महसूस कर रहे थे?

 –    वजन बढने के कारण अतिरिक्त वसा को समायोजित करने के लिए, त्वचा मे खिचाव होता है। जब आप अचानक या तेजी से वजन कम करते हैं, या यदि मोटापा लंबे समय तक रहता है, तो त्वचा में इलास्टिन और कोलेजन का नुकसान होता है। नतीजतन, त्वचा पहले की तरह अपने पहले आकार में वापस नहीं जाती है।

      एक और कारण यह है कि जब वृद्ध लोग अचानक वजन कम करते हैं, तो वे न केवल वसा खो देते हैं, बल्कि मांसपेशियाँ भी खो देते हैं; यह लंबे समय मे हानिकारक हो सकता है, क्योंकि यह आपके बीएमआर को कम करता है, साथ ही साथ आपके शरीर को कमजोर करता है, जिससे गतिशीलता की समस्या होती है। अपने भोजन में उच्च प्रोटीन को शामिल करें, हर भोजन में लगभग 25 से 30 ग्राम प्रोटीन शामिल करें। यह मांसपेशियों के निर्माण में मदद करती है।

  अच्छा आंत स्वास्थ्य क्या है?

  –  हमारी आंतें बैक्टीरिया (जीवाणुओं) की एक विस्तृत विविधता के लिए मेजबान हैं, जिनमें से कुछ हमारे स्वास्थ्य के लिए खराब हैं, लेकिन इनमें से अधिकांश हमारे पेट को इसके कामकाज में मदद करते हैं। इन अच्छे जीवाणुओं (बैक्टीरिया) की एक स्वस्थ गणना होने का मतलब है कि आपका पेट अच्छा है। यह प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करता है, मोटापा कम करता है और अन्य कार्यों में भी मदद करता है।

     हालाँकि, अगर किसी की आंत की सेहत अच्छी है, तो इसकी जाँच का कोई तरीका नहीं है, आप जानबूझकर उच्च फाइबर आहार खाएं, डिब्बाबंद, परिष्कृत भोजन से परहेज करें और एक स्वस्थ वजन को बनाए रखें।

  आहार कार्यक्रम को लगातार कैसे प्रबंधित करें? क्या अकेले संकल्प किसी को पालन करने में मदद कर सकता है?

     – नहीं! अक्सर, हमारे सबसे अच्छे इरादों के बावजूद, एक स्वस्थ आहार बनाए रखना मुश्किल है। अनुसंधान से पता चलता है कि अकेले इच्छाशक्ति स्वस्थ आहार बनाए रखने में मदद नहीं कर सकती है … यहां तक ​​कि इच्छाशक्ति अभ्यास करने वाले लोगों को ऐसा करने में परेशानी होती है। ब्रेनपावर, अर्थात्, अपने भोजन के बारे में पहले से सोचने और योजना बनाने में मदद करता है। घर पर अस्वस्थ खाने के भंडारण से बचें। जागरूक होकर और छोटे भोजन खाएं। अपने भोजन का आनंद लें, धीरे-धीरे खाएं, और ठीक से चबाएं। यदि आप किसी रेस्तरां में जा रहे हैं, तो तय करें कि आप क्या खाएंगे।

        शोध से पता चलता है कि वृद्ध होने से मदद मिलती है। जैसे-जैसे व्यक्ति वृद्ध होता है, आहार का पालन करने और ज्यादा खाने से बचने की क्षमता बढ़ती है।

  क्या आप बहुत अधिक चीनी खाते हैं?

       – हाँ, सबसे अधिक संभावना है। चीनी के सचेत रूप के अलावा भोजन के साथ बहुत सी चीनी भोजन मे छिपी हुई होती हैं। डिब्बाबंद और पैक्ड खाना, विभिन्न सॉस जिन्हें हम अपने भोजन में शामिल करते हैं, ब्रेड- इन सभी में एक हद तक चीनी मिलाई जाती है। इन खाद्य पदार्थों से बचने की कोशिश करें, इनके बजाय फलों में पाए जाने वाले प्राकृतिक शर्करा पर ध्यान दें। अपने आहार में दाल और बीन्स को भी शामिल करें, क्योंकि इनमें चीनी की मात्रा बहुत कम पाई जाती है।

  हम उन देर रात की भूख को कैसे नियंत्रित कर सकते हैं?

       – अधिकांश लोगों ने देर रात को किसी न किसी समय पर लालसा के साथ खूब खाया है … लेकिन अगर यह एक आदत बन जाती है, तो यह आपके आहार में हस्तक्षेप कर सकती है। अनुसंधान ने सुझाव दिया है कि एक कप कैफीनरहित / हरी / काली चाय शाम को पीने से मदद मिलती है। पोषण विशेषज्ञ सुझाव देते हैं कि UMAMI (एक दिलकश स्वाद), एक व्यक्ति को तृप्ति महसूस करवाता है, और भोजन की लालसा को कम करता है। चाय में एक अवयव (L-Theanine) होता है, जो UMAMI की तरह ही महसूस करा सकता है। यह एक व्यक्ति को बेहतर नींद में मदद करता है।

       धैर्य रखें। लंबे समय में घटाया वजन ज्यादा समय तक स्थिर रहेगा, अचानक और तीव्र रुप से घटाया वजन बनाए रखना मुश्किल है। सावधान रहिए; किसी भी सह रुग्णता के संकेत के लिए अपने शरीर का निरीक्षण करें। आप जो खाते हैं उस पर थोड़ा और ध्यान दें- स्वस्थ भोजन चुनें। हालांकि, कभी-कभी एक दिन खाने में बदपरहेजी करना ठीक है। सबसे महत्वपूर्ण बात, आप अंदर से  आरामदायक महसूस करे। यह आपको स्वस्थ वजन बनाए रखने के लिए प्रेरित करने की दिशा में एक लंबा रास्ता तय करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *